भारत के सबसे खतरनाक कमांडो कोन है ?

दोस्तों क्या आपको पता है हमारे भारत के सबसे खतरनाक कमांडो कोन है दोस्तों हमारे देश में बहोत ऐसे लोग है जो कमांडो में जाने का सपना देखते है और हमारे देश के सभी नोजवान कमांडो में जाने के लिए परिश्रम कर रहे |

भारत के सबसे खतरनाक कमांडो

एशियन पैरा कमांडो ट्रेनिंग

दोस्तों किसी भी देश की ताकत उस देश में मह्जुद सेना के हिसाब से किया जाता है क्युकी अगर देश में मह्जुद सैनिंक ताकतवर है तो ओ एक साथ दुसमन सेना के कई सारे सैनिको को ढेर करने में एक पल भी नहीं लगायेंगे और इसी वजह से हर देश ये चाहता है की उसके सैनिक दुनिया में सबसे बहतरीन सैनिक बने | इसके लिए उन्हें कड़ी से कड़ी ट्रेनिंग करवाई जाती है |

पैरा कमांडो

आपको ये बताना चाहूँगा की पैरा कमांडो का चयन किसी भी स्पेशल तरीको से नही चल जाता बल्की इसका चयन सेना में मजूद विभिन रेजिमेंट में से किया जाता है | जिसके बाद इन्हें आगे की ट्रेनिंग के लिए पैरा कमांडो ट्रेनिंग कैंप भेज दिया जाता है | जहाँ इस जवानों को 3 से 6 महीनो की बेसिक ट्रेनिंग के बाद 26 घंटो की ट्रेनिंग करनी होती है | ये ट्रेनिंग बहोत ही भयानक होती है लेकिन जो जवान 36 घंटे की ट्रेनिंग को पूरा कर लेते है उन्हें अपने सर पर पैरा कमांडो की टोपी और कंधे पर बैच लगाने को मिलता है |

आईपीएल 2021 में सबसे ज्यादा रन्स किसके है 

पैरा कमांडो की ट्रेंनिग कैसे होती है

दोस्तों पैरा कमांडो की ट्रेनिंग रात के समय में होती है जहाँ जब जवान नींद के आगुस में बस सोने जाने वाला ही होता है तभी उन्हें लाइन में खड़ा होने का आदेश मिलता है जबकि इन्हें पिछले एक दो कई हफ्ते से 1 या 2 घंटे की नींद नसीब में होती है ऐसे में इनके इतने थके होने के वाबजुद इस तरह के ट्रेनिंग ट्रेनिंग करना वाकिये में बहोत कठिन है | इस ट्रेनिंग में जवानों को बार बार रोज एक्सरसाइज करना होता है जब तक कोई एक हार न मान ले |

भारत की सबसे खतरनाक सेना

भारत के एक ऐसे सैनिक है जिसे सबसे जाबांज सैनिक माना जाता है मौत अगर इनके सामने खड़े हो तो ये उनसे भी दो दो हाथ के लिए खड़े होते है इनके बारे में कहा जाता है की इन्हें मरने से डर नही लगता है हालात कैसे भी हो ये हर समय लड़ने को तयार रहते है बहादुरी ऐसी की ब्रिटिश सेना भी इन्हें अपनी सेना में जहग दी है भारत की सेना की ये जवान सान है |

ओ है गोरखा सैनिक कहते है की जब गोरखा हथ्यार उठा लेता है तो दुसमन बिना युध किये हार मान जाते है इनके बारे में भारत के प्रथम फील्ड मार्शल सैम मानेकशा ने कहा था

अगर कोई व्यक्ति ये कहता है की वो मरने से डरता है नही तो या तो ओ झूट बोल रहा या फिर ओ गोरखा है  |

सैम मानेकशा की ये बात भारतीय सेना की गोरखा रेजिमेंट सच साबित कर दिए |

गरुड़ कमांडो फ़ोर्स

इंडियन एयर फ़ोर्स ने अपने एयरबेस की सुरक्षा के लिए आसमानी रक्षक गरुड़ फ़ोर्स की स्थपना की थी | गरुड़ फ़ोर्स हवाई युद्ध में बहोत माहिर होते है अपने हुनर से इनको पता होता है की कैसे दुसमन की सीमाओं में घुसकर अपने साथियों को कैसे सफलतापूर्वक वापस लाना है |

आर्मी से अलग ये कमांडो काले टोपी पहनते है और गरुड़ कमांडो सिर्फ एयर फ़ोर्स के जवानों को ही कमांडो बनने का मौका देता है पूरी तरह से गरुड़ फ़ोर्स में सामिल होने में लगभग 3 साल का समय लगता है |

गरुड़ कमांडो की ट्रेनिंग

ट्रेनिंग के दोरान गरुड़ कमांडो को उबलती नदियों और आग से गुजरना पड़ता है | और बिना सहारे पहाड़ पर चड़ना भारी बोझ के साथ कई किलोमीटर की दोड़ लगाना और घने जंगलों में रात गुजारना इनकी ट्रेनिंग का खास हिस्सा होता है | इतनी कठिन ट्रेनिगं के बदोलत यह फ़ोर्स हर तरह के प्रहार से अपने देश के लिए हमेसा तयार रहते है |

मार्कोस कमांडो फ़ोर्स

मार्कोस भारत के सबसे खतरनाक फोर्सेस में से एक है मार्कोस मरीन कमांडो और सबसे ट्रेंड और सबसे आधुनिक मानी जाती है जिसे 1987 में स्थापित किया गया था मार्कोस कमांडो बनना आसान नहीं होता | भारत के सबसे खतरनाक कमांडो

मार्कोस कमांडो की ट्रेनिंग कैसी होती है

मार्कोस कमांडो दुनिया में सबसे मुसकिल ट्रेनिंग में से एक है जिसमे कमांडो को शारीरिक और मानशिक को मजबूत करने के लिए तयार किया जाता है | इस कमांडो का मकसद काउंट टेररिज्म, डायरेक्ट एक्सेल ओन, जगह का निरीक्षण, होस्टेज रेस्क्यू, पर्सनल रिकवरी और इस तरह के खास ऑपरेशन को पूरा करना होता है |

ये कमांडो जमीन और हवा में लड़ने के लिए सक्षम होते है आज तक मार्कोस ने बहोत ऐसे मिशन जिसे अंजाम दिया है |

कोबरा कमांडो फ़ोर्स

कोबरा कमांडो भारत की सबसे बेहतरीन और सबसे खतरनाक में से एक है कोबरा कमांडो CRPF की स्पेशल फ़ोर्स है इन्हें भेस बदल कर दुसमन पर हमला करने की खास ट्रेनिंग दी जाती है | इसके लिए इन्हें खास गोरिला ट्रेनिंग दी जाती है | गोरिला ट्रेनिंग में कोबरा ट्रेनिंग को घात लगाकर मारने में एक्सपर्ट बना दिया जाता है | इन्हें जंगलो में और बीहड़ इलाको में लड़ने के लिए भेजा जाता है |

दिल्ली में सांसद और राष्ट्रपति भवन में कोबरा कमांडो की सुरक्षा के लिए लगाया जाता है | कोबरा फोर्सेस द्वारा किये गए सभी मिशन हमेसा गुप्त ही रहते है | भारत के सबसे खतरनाक कमांडो

NSG कमांडो फ़ोर्स

NSG जिन्हें ब्लैक कैट कमांडो के नाम से भी किया जाता है जिसे 1986 में बनाया गया था इन कमांडो को हर रोज कड़ा अभ्यास किया जाता है इसीलिए कोई भी ब्लैक कैट कमांडो अपने काम को करने में बिलकुल भी नही डरते यह फ़ोर्स कड़ी सुरक्षा के लिए काम करता है | जिन्हें खुद से जादा अपने साथी कमांडो पर भरोसा रहता है | ये फ़ोर्स बड़े बड़े मिशन को सफलतापूर्वक पास किया है |

निष्कर्ष

दोस्तों आपको भारत की ये सबसे जबाज कमांडो कैसे लगी आप हमें जरुर बताइए | भारत के सबसे खतरनाक कमांडो की जानकारी आपको मिल गया होगा हमें उम्मीद है |

2 thoughts on “भारत के सबसे खतरनाक कमांडो कोन है ?”

Leave a Comment