Z Plus सिक्युरिटी क्या होती है और किसको मिलती है |

दोस्तों इस पोस्ट में आप जानेंगे की आखिर z plus security kya hai और यह पॉवर किसको मिलती है z plus security kya hai और इसके कितने प्रकार होते के होते है

दोस्तों आपलोग अक्सर ये देखा होगा की बहोत सारे VIP लोग अपने सिक्यूरिटी के घेरे में चलते है जैसे की मुकेश अम्बानी, नरेन्द्र मोदी जी, ऐसे लोग जहाँ इसको 1 मिनट के लिए भी अकेला नही छोड़ा जाता और आपने ये भी सुना होगा की इन VIP लोगो को दी जाने वाली सिक्यूरिटी अलग अलग भागो में बटी होती है जैसे की – ( z plus security kya hai )

z plus security kya hai

  • Z+ Security
  • Z Security
  • Y Security

सिक्यूरिटी क्या होती है

आपके दिमाग में कई बार इस तरह के सवाल आये होंगे की आखिर सिक्यूरिटी होती क्या है (z plus security kya hai ) और इनके काम करने का तरीका क्या होता है इसमें कोन से लोग काम करते है और ये किन लोगो को दी जाती है |

तो चलिए इन सब का उत्तर जानते है – दोस्तों सबसे पहले तो दो तरह के सिक्यूरिटी होती है

  • एक जो इंसान के पद के हिसाब से उसे मिलती है |
  • और दूसरी जो इंसान के जान के खतरे को देखते हुए उसे दे दी जाती है |

असल में दोस्तों जब किसी व्यक्ति को जान का खतरा होता है तो ओ सरकार को इस बारे में बताता है जिसके बाद सरकार बहुत ही खुफिया तरीको से इस बारे में जाँच करती है की जो व्यक्ति सुरक्षा की मांग कर रहा है उसे वाकिये में सुरक्षा की जरुरत है या फिर ओ ऐसी ही सुरक्षा की मांग कर रहा है और जब सरकार को ये पता चल जाता है की हा व्यक्ति को वाकिये में सुरक्षा की जरुरत है तो उसे सिक्यूरिटी दे दी जाती है

Z Plus सिक्यूरिटी किसे मिलती है

दोस्तों राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, जज, मुख्यमंत्री और कैबिनेट मंत्री अपने आप ही सुरक्षा के पात्र होंते है इन्हें किसी से सुरक्षा मांगने की जरुरत नहीं है क्युकी इन्हें इनकी पद के हिसाब से सुरक्षा मोहिया कराई जाती है | z plus security kya hai

अब यहाँ बात आती है यहाँ इन लोगो की सुरक्षा कोन करता है तो दोस्तों पुलिस के साथ-साथ कई ऐसी एजेंसी है जो VIP और डबल VIP सिक्यूरिटी को मोहिया कराती है जैसे की

  • स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप
  • NPG
  • राष्ट्र सुरक्षा गार्ड ( NSG )
  • ITPB
  • CRPF

दोस्तों वैसे तो स्पेशल व्यक्ति की सुरक्षा का जिम्मा NSG के गन्धो पर होता है लेकिन जिस तरह से Z Plus सुरक्षा देने वाले लोगो के संख्या में इजाफा हुआ है उसे देखते हुए केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल ( CISF ) को भी ये काम सोपा जा रहा है |

आपको बता इस समय NSG 15 लोगों को सुरक्षा दे रही है जबकि CISF यह सुरक्षा लोगो को मोहिया करवा रही है |

इसे जरुर पढ़े – भारत के सबसे पावरफुल कमांडो कोन है 

Z Plus सिक्यूरिटी कितने प्रकार की होती है

Z Plus केटेगरी की सिक्यूरिटी देश की सबसे बड़ी डबल VIP सिक्यूरिटी केटेगरी है दोस्तों इस सिक्यूरिटी केटेगरी में डबल VIP के साथ 36 सुरक्षा कर्मी तयेनाथ होती है तो 10 NSG कमांडो भी डबल VIP के साथ तयेनात होती है ऐसे आप समझ सकते है की कितने हार्ड लेवल की सिक्यूरिटी होती है |

इसीलिए तो इस सिक्यूरिटी के बारे में कहा जाता है की कोई भी परिंदा डबल VIP इंसान के आस-पास पर भी नहीं मर सकता |

Z सिक्यूरिटी और Y सिक्यूरिटी क्या होती है

आपको बता दे Z सिक्यूरिटी के केटेगरी में 22 सुरक्षा कर्मी तेयनाथ होती है जबकि 5 NSG कमांडो हर वक्त सुरक्षा के लिए खड़े होते  है |

तो वही Y सिक्यूरिटी वाली केटेगरी में 11 पुलिस वाले और 2 NSG वाले खड़े होते है दोस्तों इसके निचे X केटेगरी की सिक्यूरिटी आते है जिसमे इंसान को खतरे को देखते हुए 5 या फिर 2 पुलिस कर्मियों को उसके सुरक्षा में लगाये जाते है | ( z plus security kya hai )

प्रधानमंत्री की सुरक्षा कोन करता है

दोस्तों आपको बता दे प्रधानमंत्री की सुरक्षा स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप SPG Security उठाती है| वैसे पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिजनों को भी ये सुरक्षा दी जाती है लेकिन केवल 1 साल के लिए ही |

हालाकी कुछ विसेस क़ानूनी के जरिये ये सुविधा राजीव गाँधी को मिली थी और उनके परिजनों को जीवनभर तक ये सुरक्षा मिलती रहेगी |

निष्कर्ष

दोस्तों इस पोस्ट में आप जान गए होने की ( z plus security kya hai ) और यह कितने प्रकार के होते है | अगर आपको ऐसा कुछ है जो समझ म न आया तो आप हमें बता सकते हमलोग आपका कमेन्ट को रिप्लाई करने की कोसिस करेंगे |

1 thought on “Z Plus सिक्युरिटी क्या होती है और किसको मिलती है |”

Leave a Comment